• A- A A+
Skip Navigation Linksमुख्‍य पेज
Skip Navigation Links
वृध्दि मुल्याकंन
लॉग-ईन (Login)

सुरूचि योजना

कुपोषित बच्चों का प्रतिशत न्यूनतम स्तर पर लाने के लिए जन-सहयोग से 'सुरूचि' योजना लागू की गई है। दुर्ग जिले में प्रथम चरण हेतु 100 आंगनबाड़ी केन्द्रों का चयन योजना अंतर्गत किया गया है। योजना अंतर्गत कुपोषित बच्चों को अतिरिक्त पोषण आहार तथा आवश्यक दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी जिससे वे शीघ्र सुपोषित हों जावें। अतिरक्त पोषण आहार के रूप में निम्न आहार प्रस्तावित है:-

  • 1- दूध
  • 2- केला
  • 3- रागी का बिस्कट
  • 4- नारियल एवं मिल्क पाउडर का लड्‌डू
  • 5- आवश्यक दवाएं

यह पोषण आहार लगातार 18 दिवस तक दिया जावेगा, जो 'स्नेह शिविर' के अतिरिक्त होगा। जिससे 1 माह तक सुपोषित आहार मिल सकेगा। कुपोषण के स्तर की निरंतर मॉनिटरिंग की जावेगी तथा आवश्यकता होने पर अतिरिक्त अवधि के लिए पोषण आहार प्रदाय किया जावेगा। इस योजना में प्रति बच्चा प्रति केन्द्र प्रति दिवस लागत 20 रू. होगी।